गद्दी कुत्ता। भोटिया डॉग की जानकारी। Gaddi dog information in Hindi

गद्दी कुत्ता की जानकारी। भोटिया डॉग की जानकारी।

गद्दी कुत्ता की जानकारी। भोटिया डॉग की जानकारी। Gaddi dog information in Hindi। bhotiya dog hindi।गद्दी नस्ल का कुत्ता

गद्दी कुत्ता जिसे भोटिया डॉग, हिमालियन शीप डॉग और हिमालियन मस्टिफ के नाम से भी जाना जाता है यह भारतीय मूल वाली एक बेहतरीन नस्ल है।

गद्दी कुत्ता भारत के ठंडे क्षेत्र उत्तराखंड, हिमाचल जम्मू, ओर लद्दाख जेसे प्रदेशों मैं पाए जाते है यह दिखने मैं बेहद आकर्षक और सुंदर लगते हैं।

गद्दी कुत्ता भारतीय मूल की वह नस्ल जिसकी तुलना गुणों के आधार पर विदेशी गार्ड डॉग ब्रीड्स से की जाती है।

इस लेख मैं गद्दी डॉग से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे मैं जानेंगे।


गद्दी कुत्ता इतिहास। Gaddi dog history Hindi

गद्दी कुत्ता जो की मुख्य रूप से भारत और नेपाल के हिमालीय क्षेत्रों मैं और मैं पाया जाता है और वहां के पहाड़ी लोगो द्वारा प्राचीन समय से ही पाला जाता रहा है पहाड़ी लोग इसका इस्तेमाल भेड़ बकरियों को चराने ओर इसकी सुरक्षा के लिए करते हैं।

इसलिए इसे हिमालियन शीप डॉग भी कहा जाता है तथा स्थानीय लोग इसे भोटिया डॉग भी कहते हैं यह गॉर्ड डॉग के रूप मै पाले जाने वाली एक बेहतरीन देसी नस्ल है को की पशु संरक्षण हेतु किसानों और चरवाहों के लिए अत्यंत उपयोगी नस्ल है।

गद्दी डॉग के उत्पत्ति के बारे मैं व्यापक संक्षिप्त विवरण तो मोजूद नही है लेकिन स्थानीय लोगो द्वारा ऐसा कहा जाता है।

की पहाड़ी लोगो को अपने मवेशियों को पहाड़ी तेंदुओं से सुरक्षित रखने के लिए एक ऐसे नस्ल की जरूरत जो की मवेशियों का बचाव कर सके और तंदुओ का मुकाबला कर सकें।

तथा जिसके लिए गद्दी कुत्ता है बहुत अच्छा विकल्प साबित हुआ तथा भोटिया डॉग के बाल लंबे होते है जो की दिखने मैं काफी आकर्षक होते है। स्थानीय लोगो का यह कहना है की एक गद्दी कुत्ता एक जंगली तेंदुए को अकेले ही संभाल सकता हैं।

समय के साथ गद्दी कुत्ता अपने रंग, रूप ,आकार और गुणों के कारण भारत मैं काफी प्रचलित और लोकप्रिय हो गय तथा आज के समय मै कई डॉग ब्रीडर गद्दी डॉग की ब्रीडिंग कर इन्हे बेच रहे हैं।


गद्दी कुत्ता स्वभाव। Gaddi dog temperament hindi

भोटिया कुत्ते कैसे होते हैं? हर एक डॉग ब्रीड का एक विशेष पहचान होती है जो की हमे उसके स्वभाव से पता चलता है ठीक उसी तरह जब हम कोई नस्ल पालते है तो हमे उसके स्वभाव के बारे मैं पहले से पता होना बेहद जरूरी होता हैं

स्वभाव के बारे मैं पता होने से एक डॉग ओनर के लिए कई चीजे बेहद सरल हो जाती है जिससे की वह एक गद्दी कुत्ते को अच्छी तरह से संभाल पाए और परवरिश कर सके।

1.गद्दी कुत्ता एक संरक्षक डॉग ( गार्ड डॉग) की श्रेणी मैं आने वाली नस्ल जो की अक्रामक और थोड़े गुस्सैल होते हैं लेकिन शुरुवाती दिनों से ही आप इसे प्रशिक्षित करे तो यह बिल्कुल आपके नियंत्रण मैं रहते हैं।

2.गद्दी कुत्ता एक निडर और साहसी नस्ल है जो की अजनबियों के सामने विरोध प्रदर्शन करते हैं एवम हमला कर सकते है।

3.गद्दी कुत्ता एक गॉर्ड डॉग है जो की काफी सक्रिय होते है जिन्हे घूमना भागना है अन्य शारीरिक गतिविधि करना बहुत प्रिय होता है।

4.गद्दी कुत्ता एक भारतीय देसी डॉग ब्रीड हैं तथा कई लोग इन्हे विदेशी नस्लों की तुलना मैं कम समझते है लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं हैं।   

गद्दी डॉग बेहद बुद्धिमान नस्ल होती है जिन्हे आप लेब्राडोर और जर्मन शेफर्ड डॉग की तरह ही प्रशिक्षित कर सकते है एवम तौर तरीके शिखा सकते हैं।

5.गद्दी डॉग एक बावफदार नस्ल है जो की अपने मालिक और परिवार के प्रति पूर्ण रूप समर्पित और होते है एवम उनके प्रति सुरक्षा का भाव रखते हैं।

यह अपने मालिक और परिवार पर किसी प्रकार का खतरा देखकर यह सतर्क और आक्रामक रवैया अपना लेते हैं।


गद्दी डॉग की देखभाल। Gaddi Dog care in hindi

जब भी एक डॉग पालते है तो यह बेहद जरूरी है की हम उसकी देखभाल सही तरीके से करें जिसके की वह बेहतर डॉग के रूप मै तैयार हो सकें।

1.गद्दी कुत्ता है बहुत अच्छे प्रहरी और संरक्षक डॉग होते है यह गुण इन्हे विरासत से ही अपनी पूर्वजों से मिली है तथा इसे एक समृद्ध डॉग बनाने के लिए आपके इसे जरूरी ट्रेनिंग देना बेहद जरूरी होता है।

ट्रेनिंग के साथ आपको इसे बाहरी दुनिया से सामाजिक परिचय कराना भी जरूरी होता है ताकि यह बाहरी दुनिया को समझ सकें और परिचित हो सकें।

एक ट्रेनिंग और समाजीकरण के माध्यम से आप इसे एक सभ्य और अज्ञाकारी नस्ल बना सकते हैं।

2.गद्दी डॉग एक अक्रामक नस्ल है जो की खतरा महसूस होने पर अजनाबियो पर हमला भी कर सकते हैं ऐसी स्थिति बचने के लिए इन्हे अजनबियों के सामने बांध कर रखे।

बांधने के साथ यह भी ध्यान मैं रखें की इन्हे हमेसा दिन भर के लिए एक ही स्थान पर बांध कर न रखे बीच बीच मै खुला भी छोड़े और नियमित तौर पर घुमाए।

3.गद्दी कुत्ता एक मध्यम आकार वाली नस्ल है जो की काफी सक्रिय होते है जिन्हे एक अच्छे खान पान की अवश्यकता होती है।

अच्छे भोजन के साथ आपको इसे नियमित तौर पर व्यायाम कराने और घुमाने की अवश्यकता होती हैं। जिससे की यह पूर्ण रूप से स्वस्थ्य और एक्टिव बने रहे।

लेकिन ध्यान रहे की अधिक परिश्रम वाला व्यायाम और घूमना इसके लिए थकानदेह ओर तनाव पूर्ण हो सकता हैं।

4.गद्दी डॉग के बाल मध्यम आकार मैं लंबे और घने होते है जिन्हे स्वस्थ और उलझन मुक्त बनाए रखने के लिए यह बेहद जरूरी है की नियमित अंतराल पर बालों की ब्रशिंग और साफ़ सफाई की जाए।

नियमित अंतराल पर बालों की सफाई से बाल उलझन मुक्त रहते है एवम झड़ते कम है तथा बालों मैं परजीवी होने का खतरा भी नही होता हैं।

5. गद्दी डॉग की उत्पति पहाड़ी और ठंडे क्षेत्रों मैं हुई है तथा गद्दी डॉग्स ठंडे वातावरण मैं रहने के लिए अनुकूल होते हैं तथा आप यदि एक ऐसे स्थान पर रहते है जहां अधिक गर्मी होती हैं और आप एक गद्दी डॉग को पालते है तो आपके अपने घर के तापमान को नियंत्रित करने की आवश्यकता पड़ेगी।


गद्दी कुत्ता का स्वास्थ्य। Gaddi dog health in Hindi

गद्दी डॉग एक देसी भारतीय नस्ल है तथा एक देसी नस्ल किसी भी विदेशी नस्ल के मुकाबले ज्यादा स्वस्थ्य और स्ट्रॉन्ग होते है तथा इन्हे बाकी डॉग्स ब्रीड की तुलना मैं रोगों को खतरा कम रहता है।

भारतीय कुत्तों की इसी खासियत के कारण इन्हें रफ एंड टफ डॉग ब्रीड कहा जाता हैं।

लेकिन कुछ स्थितियों मैं गद्दी कुत्ते को कुछ बीमारियां हो सकती है।

जेसे की यदि गद्दी डॉग के माता पिता या पूर्वज किसी प्रकार की अनुवांशिक बीमारी से पीड़ित है उसके प्रभाव आपको गद्दी डॉग मैं देखने को मिल सकते हैं।

इसके अतिरिक्त यदि गद्दी कुत्ता किसी संक्रमण वाले रोग के संपर्क मैं आता है तो ऐसी स्थिति मैं भी यह बीमार हो सकते है संक्रमण से बचाने के लिए भरी वस्तुओ को सूघने ओर खाने से बचाए।

तथा अन्य बीमार डॉग्स और जानवरों के संपर्क मैं आने से बचाएं।

जैसा कि पहले भी हमने इस लेख मैं जिक्र किया है की गद्दी कुत्ता ठंडे क्षेत्रों मैं रहने के लिए अनुकूल होते है तथा उच्च तापमान वाले स्थान पर रहने मैं इन्हे असुविधा हो सकती हैं।


गद्दी कुत्ता भोजन। Gaddi dog food in hindi

जब भी हम कोई नस्ल पालते है तो एक अच्छे डॉग ओनर होने के नाते हमारी यह जिम्मेदारी होती है की उसे एक स्वादिष्ट और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन उपलब्ध कराए।

तथा एक गद्दी डॉग पालने से पहले हमे उसके आहार के बारे मैं जानना बेहद जरूरी होता है।

1.गद्दी डॉग मध्यम आकार वाली सक्रिय नस्ल है जो की कड़ी मेहनत और शारीरिक गतिविधियां करने वाले होते है जिसके लिए इन्हे अधिक ऊर्जा की अवश्यकता होती हैं।

इस अधिक ऊर्जा की पूर्ति के लिए आपको इसे पर्याप्त मात्रा मैं पौष्टिक भोजन देने की आवश्यकता होती है जो की इसका पेट भरने के साथ साथ इसे पोषण भी प्रदान करे।

2.गद्दी डॉग को अपनी सुविधा और लागत के अनुसार भोजन दे सकते है इसे आप घर का भोजन भी से सकते ओर रेडिमेड डॉग फूड भी।

लेकिन घर के भोजन मैं पोषक तत्वों की मात्रा को डॉग के उम्र और आकार के हिसाब से संतुलित रख पाना थोड़ा कठिन कार्य होता है।

तथा एक रेडिमेड डॉग फूड मैं सभी आवश्यक पोषक तत्त्व संतूलित मात्रा मैं उपस्थित होते हैं होते है एवम रेडिमेड डॉग फूड मैं उम्र और आकार के अनुसार डॉग फूड चयन करने का भी विकल्प होता हैं।

गद्दी कुत्ता एक मजबूत नस्ल तथा उसके अनुसार ही इसके लिए एक बेहतर भोजन चुनने की आवश्यकता हमे होती है।

ध्यान रहे: गद्दी डॉग के भोजन की मात्रा उसके उसके आकार उम्र और पाचन शक्ति पर भी निर्भर करता हैं। एवम इसके अलावा उसकी शारीरिक गतिविधियां भी एक अहम भूमिका निभाती हैं।


गद्दी डॉग शारीरिक संरचना।

गद्दी डॉग एक तंदुरुस्त और हट्टी कट्टी नस्ल है तथा व्यस्क गद्दी डॉग का वजन 23 – 45 किलोग्राम तक होता है एवम हाईट 50 – 66 सेंटीमीटर तक होती हैं।

गद्दी डॉग के बाल डबल कोट मैं होते है जो की कठोर और मोटे होते है एवम इसे भरी सर्दी से बचाते हैं। उंगली छाती और गर्दन पर सफेद रंग के धब्बे होते हैं।

गद्दी डॉग के कान सामने की ओर झुके हुए होते हैं एवम पूछ मोती और घने बालों वाली होती हैं।

SHARE THIS :

Leave a Comment

Your email address will not be published.