इन 7 सबसे आसान तरीको से करे अपने डॉग को ट्रैन।

इन 7 सबसे आसान तरीको से करे अपने डॉग को ट्रैन।

जब भी हम कोई नस्ल पालते है तो एक अच्छे डॉग ऑनर होने के नाते हमारी यह जिम्मेदारी होती है की हम अपने डॉग की देखभाल और खान पान अच्छे से करे।

लेकिन किसी भी डॉग को एक बेहतर नस्ल बनाने के लिए यह बेहद जरूरी है की हम उसकी आवश्यक ट्रेनिंग भी करवाए जिसकी सहायता से वह एक सभ्य समाज मैं रहने के तौर तरीके और व्यवहार सीखा सके।

डॉग को ट्रेनिंग कैसे दे? डॉग को ट्रैनिंग देने के लिए आप ट्रैनिंग बुक, ऑनलाइन डॉग ट्रेनिंग कोर्स, पर्सनल डॉग ट्रेनर इन माध्यमों का सहारा ले सकते है।

लेकिन आप हमारे चुनिंदा रीडर्स मैं से है तो हम आपको इस लेख मैं कुछ खास तरीके के बारे मैं बताने वाले है जिसकी मदद से आप अपने डॉग को स्मार्ट डॉग ट्रेनिंग दे पाएंगे।


डॉग को ट्रेनिंग कैसे दे। Dog training in Hindi

डॉग को ट्रेनिंग देना थोड़ा सा चुनौती भरा काम होता है लेकिन आप यदि अलग चरणों मैं यह काम करते है तो डॉग को ट्रेनिंग देना अपेक्षाकृत सरल हो जाता है।

तो आइए जानते है की डॉग को ट्रेनिंग कैसे देते है।

1.डॉग को ट्रेनिंग देने की सही उम्र

दोस्तो ऐसा नहीं है हम कभी भी अपने डॉग की ट्रेनिंग शुरू कर सकते है डॉग को ट्रेनिंग देने के लिए हमे इसकी उम्र का ध्यान रखना जरूरी होता है डॉग की ट्रेनिंग की शुरुवात दो महीने की उम्र के बाद करना चाहिए।

यह भी ध्यान रहे की ट्रेनिंग के शुरुवाती दिनों मैं आप कठिन चीजे सिखाने का प्रयास न करे।


2.ट्रेनिंग के लिए डॉग को तैयार करे।

दो महीनो के बाद जब आपका पप्पी ट्रेनिंग के लिए तैयार होगा तब आपको उसे अपने साथ बाहर लेकर जाना है तथा ध्यान रखे की इसे आप एक अच्छे ओर मजबूत लीश से बांध कर रखे ताकि यह इसे इधर उधर भागने और दुर्घटना होने से बचाएगा।

लिश इसे आपके नियंत्रण मैं रखेगा और इसे यह पता होगा की इसे आपके पास ही रहना है।

ट्रेनिंग को और सरल बनाने के लिए आप ट्रीट (पप्पी ट्रीट) का प्रयोग भी करे इससे पप्पी जल्दी प्रशिक्षित होगा।

डॉग की ट्रेनिंग आप घर अथवा घर के बाहर दोनो स्थानों पर कर सकते है ट्रेनिंग देते समय इसे लींश से जरूर बांध कर रखे ताकि आपका ध्यान भटकने पर यह भाग न सके।


3.कुत्ते को ट्रेनिंग देने के लिए सबसे पहले क्या सिखाए।

आपका पप्पी अब ट्रेनिंग के लिए तैयार है तो आपको सर्वप्रथम क्या सीखना चाहिए। यह जाहिर सी बात है की आपने पप्पी नाम अवश्य से ही रख लिया होगा तथा अब बारी है नाम से बुलाने की आवश्यकता है।

ट्रेनिंग के लिए यह जरूरी है को जब भी आप कुत्ते को नाम से पुकारे तो यह प्रतिक्रिया दे और आपके आदेश को माने।

ध्यान रहे अपने कुत्ते का छोटा रखे जो बोलने मै आसान हो और यदि आप अपने डॉग नाम थोड़ा बड़ा भी रखते है तो आप इसे एक निक नेम भी दे सकते हैं।


4.कुत्ते को शैक हैंड करना सिखाए।

कुत्तों का हाथ मिलाना शेक हैंड करना उनके दोस्ताना व्यवहार को दर्शाता है तथा एक डॉग ओनर होने के नाते आपके डॉग का शेक हैंड करना आपके लिए एक गर्व की बात होगी।

तथा कुत्ते को शेक हैंड सिखाने के लिए आपको सर्व प्रथम उसे उसके नाम से बुलाए तथा जब वह पास आ जाता है हाथ मिलाने के लिए अपना हाथ आगे करे।

हो सकता है शुरुवाती दिनों मै यह हाथ न मिलाए। यदि एक कुत्ता हाथ नही बढ़ाता है तो आपको उसका हाथ पकड़ कर शेक हैंड करना होगा और जब यह स्वयं आपके निर्देश पर शेक हैंड करे तो पुरस्कार के रूप मै इसे ट्रीट खाने को दे।


5.कुत्ते को बैठना केसे सिखाए।

कुत्ते को बैठना सिखाना हर एक डॉग ओनर चाहता है लेकिन यह कार्य यदि आप सही ढंग से नहीं करते है यह काम देहद पेचिदा हो सकता है अपने कुत्ते को बैठना सिखाने के लिए आपको यह बात ध्यान मैं रखना जरूरी है की सारी चीजे एक साथ नहीं कुत्ते को नहीं सिखानी है। स्टेप बाई स्टेप ही ट्रेनिंग दे।

कुत्ते को बैठने सिखाने के लिए आपको ट्रीट की आवश्यकता होगी।

स्टेप #1

सबसे पहले ट्रीट लेकर अपने डॉग को पास मैं बुलाइए और ट्रीट को हाथ में लेकर डॉग के मुंह के पास लेकर जाइए।

स्टेप #2

ट्रीट को मुंह के पास लेकर जाने के बाद इसे धीरे धीरे उपर करते हुए कुत्ते के पीट की ओर लेकर जाइए यह करने पर आप देखेंगे आप डॉग बैठने की पोजिशन मैं आ जायेगा और जब डॉग पूरी तरह से बैठ जाए आपको ट्रीट डॉग को देना है।

स्टेप #3

यह प्रक्रिया आपको कई दिनों दोहरानी है ऐसा करने पर यह आपके कहने पर बैठने लगेगा लेकिन आपको यह भी ध्यान मैं रखना होगा की धीरे धीरे आपको ट्रीट देना भी कम करना होगा।


6.डॉग को पॉटी ट्रेनिंग कैसे दे।

अपने पालतू डॉग को पॉटी के लिए ट्रेनिंग देना बेहद जरूरी होता है क्योंकि ऐसा न किए जाने पर यह आपके घर को गन्दा और बदबूदार बना सकता है तो सवाल यहां यह आता है की डॉग को पॉटी के लिए केसे ट्रेन करे। 

तो इस बात की चिंता आप बिलकुल न करे कुछ इस तरीका आपको बताने वाले है जिसे आप फॉलो करते है तो बड़ी आसानी के साथ अपने डॉग को पॉटी के लिए ट्रेन कर सकते हैं।

1.आमतौर पर यह पता लगाना मुस्किल होता है की आपके डॉग को पॉटी कब आएगी लेकिन समान्य तौर पर डॉग को सुबह और रात के भोजन के बाद पॉटी आती है इसके अलावा ज्यादा शारीरिक गतिविधि जेसे की खेलना ,भागना ऐसी क्रियाओं के बाद डॉग को पॉटी आती है।

2.आपको पॉटी वाले स्थान को निर्धारित कर रोजाना अपने डॉग को रोजाना सुबह सुबह और रात के भोजन के बाद उस स्थान पर लेकर जाना होगा। 

हो सकता है की शुरुवाती कुछ दिनों मै यह उस स्थान पर पॉटी न करे लेकिन कुछ समय बाद आप देखेंगे कि डॉग पॉटी वाले स्थान पर ही जाकर पॉटी करेगा।

3.आप यदि डॉग को पॉटी के लिए बाहर नही ले कर जाना चाहते है तो आप घर पर बने टॉयलेट का इस्तेमाल भी कर सकते है 


7.डॉग को नियंत्रित केसे करे।

कई डॉग ओनर्स की यह शिकायत होती है की उनका डॉग उनके नियंत्रण मैं नहीं होता है जब भी वह अपने डॉग के पास जाते है या डॉग उनके पास आता है वह उनके ऊपर कूदने लगता है और उनके नियंत्रण मैं नही आता है।

स्टेप#1

अपने डॉग को नियंत्रत करने के लिए सबसे पहले आपको उसे बांधकर रखना होगा और जब आप उसके पास जाए और जब वह आपके उपर तो आपको उसे डांटना है।

स्टेप #2

जब भी डॉग आपके उपर हावी हो और आपको पकड़े तो आपको कोई भी प्रतिक्रिया नहीं देनी है आपको सीधे खड़ा रहना है क्योंकि अधिकांस डॉग आपका ध्यान आकर्षित करने के लिए ऐसा व्यवहार करते है।

स्टेप#3

जब कोई भी प्रतिक्रिया नहीं देगे तो डॉग शांत हो जायेगा और तब आपको डॉग को बैठने का निर्देश देना है और यदि वह आपकी बात नही मानता है तो आप ट्रीट का इस्तेमाल भी कर सकते है। 

कुछ समय लग सकता डॉग को नियंत्रत करने के लिए लेकिन आप प्रतिदिन उपर बताए गए तरीको को अपनाते है तो आपको अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे।


कुत्ते को भोकना कैसे सिखाएं?

एक डॉग की आवाज उसका भौकना होता हैं लेकिन कई लोगो को अपने डॉग से शिकायत होती हैं की वह भौकते नहीं है। तो अब क्या किया जाये डॉग को भोकना कैसे सिखाएं?

आपको इस बात की चिंता हैं की आपका डॉग भौकता नहीं हैं तो हम आपकी चिंता को दूर करने की कोसिस करेंगे आप अपने डॉग को कुछ आसान तरीको से भौकना शिखा सकते हैं। 

तो आइये जानते हैं की डॉग को भोकना कैसे सिखाएं?

स्टेप 01 

सबसे पहले आपको डॉग का ध्यान अपनी और आकर्षित करना होगा जिसके लिए आप ट्रीट की मदद ले सकते हैं ट्रीट का लालच देकर आपको उसे अपने पास बुलाना हैं। 

स्टेप 02 

ट्रीट देखकर जब डॉग पास आता हैं तो आपको उसे ट्रीट नहीं देना है जब आप डॉग को ट्रीट नहीं देंगे तो वह गुस्सा होगा और भौकने लगेगा और तब आपको उसे ट्रीट देना हैं ऐसा करने पर डॉग  समझ जायेगा की उसे भौकना हैं और उसे ट्रीट मिलेगी। 

स्टेप 03 

ट्रीट देने के साथ आपको डॉग की पीट सहलाकर शाबाशी भी देना होगा और ट्रीट देने के साथ भौकने के लिए आदेश भी देना होगा।

यह प्रक्रिया बार बार दोहराये जाने पर आपको अच्छे परिणाम देखें कप मिलेंगे।  

SHARE THIS :

2 thoughts on “इन 7 सबसे आसान तरीको से करे अपने डॉग को ट्रैन।”

Leave a Comment

Your email address will not be published.