कुत्ते के काटने पर क्या नहीं खाना चाहिए यह 10 चीजे। और करे यह उपाय करे?

कुत्ते के काटने पर क्या खाना नहीं चाहिए?

कुत्ते के काटने पर क्या उपाय करे? कुत्ता काटने के बाद क्या परहेज करना चाहिए। कुत्ते के काटने पर क्या खाना चाहिए। कुत्ते के दांत लगने पर क्या होता है। कुत्ते के काटने के कितने दिन बाद रेबीज फैलता है?


कुत्ते का काटना किसी व्यक्ति के लिए एक गंभीर और पीड़ादायक स्थिति होती है तथा कुत्ते के काटने के बाद जरूरी उपचार ओर रेबीज के टीके लगवाना अनिवार्य होता है।

कई लोगो के मन मै सवाल होता है की कुत्ता काटने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए। या फिर कुत्ता काटने के बाद क्या परहेज करना चाहिए? तथा इस लेख मैं हम उन खाद्य पदार्थो के बारे मैं जानेंगे जिन्हे कुत्ते के काटने के बाद खाने से बचना चाहिए।


कुत्ते के काटने पर क्या नहीं खाना चाहिए?

कई प्रकार के किए गए चिकित्सीय अध्यनो से यह पता चला है की कुछ खाद्य पदार्थों का सेवन कुत्ते के काटने के बाद नही करना चाहिए। जो की निम्नलिखित हैं।

  • टमाटर
  • इमली
  • अधिक मसालेदार भोजन
  • आलू
  • दूध
  • धनिया
  • दाल
  • मांस
  • बैगन
  • कटहल
  • कद्दू

हालाकि यह सभी खाद्य पदार्थों के प्रतिबंध से संबंधित कोई वैज्ञानिक आधार पर प्रमाण मौजूद नहीं हैं।


कुत्ते के काटने पर क्या उपाय करे?

कुत्ते के काटने पर क्या उपाय करे? यदि आपको कुत्ता काटता है तो कुछ प्राथमिक उपचार के तौर पर कुछ उपाय किए जा सकते है। जो कि संक्रमण के खतरे को कम कर सकते हैं। 

1.कुत्ते द्वारा काटे गए स्थान (घाव ) को बहते हुए पानी मैं थोड़ी देर तक धोए इससे रेबीज या अन्य संक्रमण का खतरा कम हो जाता है।

2.डॉक्टरी चिकित्सा मैं देरी होने पर ओवर द काउंटर मिलने वाली एंटी बायोटिक मलहम का इस्तेमाल करे।

3.एक साफ कपड़े की सहायता से घाव से होने वाले खून के बहाव को कम करे।

4.घाव को एक हवादार जाली वाले पट्टी से बांध कर रखे ध्यान पट्टी को अधिक दबाव से न बांधे।

5.कुत्ते काटने के बाद जितनी जल्दी हो सकते डॉक्टर के पास जाए जरूरी उपचार ले।


क्या कुत्ते के काटने के बाद रेबीज के टीके लगवाना चाहिए।

वैसे तो कुत्ते के काटने के बाद रेबीज के टीके लगवाना ही चाहिए क्योंकि आप अपने जान के साथ कोई भी रिस्क नहीं लेना चाहेगे। वैसे सभी कुत्तों को रेबीज नही होता है लेकिन आपको ऐसी स्थिति मैं यह पता होना चाहिए की उस कुत्ते की एक वर्ष के भीतर रेबीज का टीका लगाया गया हो।


कुत्ते के काटने पर कितने दिन बाद रेबीज फैलता है?

कुत्ते काटने 10 से 20 दिनों के अंदर रेबीज हो सकता है तथा कुत्ते के काटने के 24 घंटे के भीतर रेबीज का टीका लगवा लेना चाहिए। तथा जिस कुत्ते ने आपको काटा है उस पर दस दिनों तक नजर रखे यदि वह पूर्ण रूप से स्वस्थ्य रहता है तो तीन टीके लगवाना जरूरी होता है।

और यदि वह कुत्ता 10 दिनों के भीतर मार जाता है तो रेबीज के सभी टीके लगवाना अनिवार्य और जरूरी होता है।


कुत्ता काटने पर कितने घंटे बाद इंजेक्शन लगवाना चाहिए?

अगर किसी व्यक्ति को कुत्ता काटता है तो देरी न करते हुए चिकित्सक से मिले तथा कुत्ता काटने के 24 घंटे के भीतर एंटी रेबीज का पहला इंजेक्शन लगवा लेना चाहिए।


कुत्ते के दांत लगने पर क्या होता है?

यदि किसी व्यक्ति कुत्ते के दांत लग जाते है और उस स्थान पर घाव या खरोच बन जाते है तो यकीनन लार (सलाइवा) के माध्यम से कुत्ते के शरीर मैं मोजूद वायरस आपके शरीर मैं दाखिल हो गए हैं।

ऐसी स्थिति होने पर जितनी जल्दी हो सके डॉक्टर से संपर्क करे और जरूरी उपचार ले।

ओर यदि आपको किसी प्रकार से भी कुत्ते के दांत लगते है और कोई खरोच या घाव नही आते है तो आपको परेशान होने अवश्यकता नही है।


रेबीज के टीके का असर कितने साल रहता है?

यदि किसी व्यक्ति को कुत्ता काटता है तो 24 घंटे के भीतर पहला एंटी रेबीज टीका लगवाना जरूरी होता है और बाकी के टीके भी समानुसार लगवाना अनिवार्य होता हैं। तथा इन टीको का असर तीन वर्षो तक रहता है।

रेबीज का टीका लगाने के तीन वर्ष तक कोई कुत्ता काट लेता है रेबीज फैलने का खतरा नहीं होता है।


कितने दिनों के बाद रेबीज का टीका लगवाया जा सकता हैं?

कुत्ते के काटने के 72 घंटो के अंदर रेबीज का टीका लगाना अनिवार्य होता हैं क्योकि इसके बाद आप यदि रेबीज टीके लगवाते हैं तो बेअसर साबित हो सकता हैं। टीके लगने के बाद प्रतिरक्षा को विकसित होने पर 10 दिनों का समय लगता हैं  

आपको यदि किसी कुत्ते ने काटा और आपको यह संदेह हैं की आपको रेबीज वाले कुत्ते ने काटा हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे तथा 24 घंटे के अंदर टीके लगवाए।  



रेबीज के लक्षण कितने दिन में दिखते हैं?

यदि आपके एक रेबीज वायरस वाला कुत्ता काटता है तो काटने के बाद  रेबीज संक्रमण के लक्षणों को दिखने मैं 28 से 90 दिनों का समय लगता हैं। 


क्या सभी कुत्तों में रेबीज होता है?

कुत्ते के काटने मैं सबसे ज्यादा खतरा रेबीज का होता हैं लेकिन सभी कुत्तों मैं रेबीज नहीं होता हैं। रेबीज से संक्रमित कुत्ता यदि किसी व्यक्ति काटता हैं तो व्यक्ति रेबीज से संक्रमित हो सकता हैं। 

यदि एक पालतू कुत्ता जिसे सभी टीको के समेत रेबीज का टीका भी लगा हैं और इसके काटने पर रेबीज होने का खतरा नहीं होगा।

SHARE THIS :

Leave a Comment

Your email address will not be published.